Search

लोड हो रहा है. . .

शुक्रवार, अगस्त 05, 2011

गुरुत्व ज्योतिष ई पत्रीका अगस्त 2011 में प्रकशित लेख


Aug 2011 free monthly Astrology Magazines, You can read in Monthly GURUTVA JYOTISH Magazines Astrology, Numerology, Vastu, Gems Stone, Mantra, Yantra, Tantra, Kawach & ETC Related Article absolutely free of cost. गुरुत्व ज्योतिष मासिक ई पत्रीका ज्योतिष, अंक ज्योतिष, वास्तु, रत्न, मंत्र, यंत्र, तंत्र, कवच इत्यादि प्राचिन गूढ सहस्यो एवं आध्यात्मिक ज्ञान से आपको परिचित कराती हैं।

गुरुत्व ज्योतिष ई पत्रीका अगस्त 2011 में प्रकशित लेख
पर्युषण पर्व विशेष
जैन पर्युषण पर्व, महावीर स्वामी जन्म वांचन, नवकार मंत्र, नवकार मन्त्र, नवकार महामंत्र, सनस्कार महामंत्र, चोबीस तीर्थंकर, जैन पर्यूषण महापर्व, घंटाकर्ण महावीर महा यंत्र, घंटाकर्ण महावीर महा पतका यंत्र, स्नान-दान-व्रत हेतु उत्तम श्रावणी पूर्णिमा, रक्षाबंधन, रक्षाबन्धन, राखी पूर्णीमा, राखि पूनम, राखी पुनम, श्रावणी उपाकर्म, गायत्री जयंती, नारयली पूर्णिमा, कृष्ण जन्माष्टमी व्रत, क्रिष्ण जन्माष्टमी व्रत, आद्याकाली जयंती, कालाष्टमी व्रत, जन्माष्टमी व्रत, गोकुलाष्टमी, श्री कृष्ण जन्मोत्सवજૈન પર્યુષણ પર્વ, મહાવીર સ્વામી જન્મ વાંચન, નવકાર મંત્ર, નવકાર મન્ત્ર, નવકાર મહામંત્ર, સનસ્કાર મહામંત્ર, ચોબીસ તીર્થંકર, જૈન પર્યૂષણ મહાપર્વ, ઘંટાકર્ણ મહાવીર મહા યંત્ર, ઘંટાકર્ણ મહાવીર મહા પતકા યંત્ર, સ્નાન-દાન-વ્રત હેતુ ઉત્તમ શ્રાવણી પૂર્ણિમા, રક્ષાબંધન, રક્ષાબન્ધન, રાખી પૂર્ણીમા, રાખિ પૂનમ, રાખી પુનમ, શ્રાવણી ઉપાકર્મ, ગાયત્રી જયંતી, નારયલી પૂર્ણિમા, કૃષ્ણ જન્માષ્ટમી વ્રત, ક્રિષ્ણ જન્માષ્ટમી વ્રત, આદ્યાકાલી જયંતી, કાલાષ્ટમી વ્રત, જન્માષ્ટમી વ્રત, ગોકુલાષ્ટમી, શ્રી કૃષ્ણ જન્મોત્સવ,  ಜೈನ ಪರ್ಯುಷಣ ಪರ್ವ, ಮಹಾವೀರ ಸ್ವಾಮೀ ಜನ್ಮ ವಾಂಚನ, ನವಕಾರ ಮಂತ್ರ, ನವಕಾರ ಮನ್ತ್ರ, ನವಕಾರ ಮಹಾಮಂತ್ರ, ಸನಸ್ಕಾರ ಮಹಾಮಂತ್ರ, ಚೋಬೀಸ ತೀರ್ಥಂಕರ, ಜೈನ ಪರ್ಯೂಷಣ ಮಹಾಪರ್ವ, ಘಂಟಾಕರ್ಣ ಮಹಾವೀರ ಮಹಾ ಯಂತ್ರ, ಘಂಟಾಕರ್ಣ ಮಹಾವೀರ ಮಹಾ ಪತಕಾ ಯಂತ್ರ, ಸ್ನಾನ-ದಾನ-ವ್ರತ ಹೇತು ಉತ್ತಮ ಶ್ರಾವಣೀ ಪೂರ್ಣಿಮಾ, ರಕ್ಷಾಬಂಧನ, ರಕ್ಷಾಬನ್ಧನ, ರಾಖೀ ಪೂರ್ಣೀಮಾ, ರಾಖಿ ಪೂನಮ, ರಾಖೀ ಪುನಮ, ಶ್ರಾವಣೀ ಉಪಾಕರ್ಮ, ಗಾಯತ್ರೀ ಜಯಂತೀ, ನಾರಯಲೀ ಪೂರ್ಣಿಮಾ, ಕೃಷ್ಣ ಜನ್ಮಾಷ್ಟಮೀ ವ್ರತ, ಕ್ರಿಷ್ಣ ಜನ್ಮಾಷ್ಟಮೀ ವ್ರತ, ಆದ್ಯಾಕಾಲೀ ಜಯಂತೀ, ಕಾಲಾಷ್ಟಮೀ ವ್ರತ, ಜನ್ಮಾಷ್ಟಮೀ ವ್ರತ, ಗೋಕುಲಾಷ್ಟಮೀ, ಶ್ರೀ ಕೃಷ್ಣ ಜನ್ಮೋತ್ಸವ, ஜைந பர்யுஷண பர்வ, மஹாவீர ஸ்வாமீ ஜந்ம வாம்சந, நவகார மம்த்ர, நவகார மந்த்ர, நவகார மஹாமம்த்ர, ஸநஸ்கார மஹாமம்த்ர, சோபீஸ தீர்தம்கர, ஜைந பர்யூஷண மஹாபர்வ, கம்டாகர்ண மஹாவீர மஹா யம்த்ர, கம்டாகர்ண மஹாவீர மஹா பதகா யம்த்ர, ஸ்நாந-தாந-வ்ரத ஹேது உத்தம ஶ்ராவணீ பூர்ணிமா, ரக்ஷாபம்தந, ரக்ஷாபந்தந, ராகீ பூர்ணீமா, ராகி பூநம, ராகீ புநம, ஶ்ராவணீ உபாகர்ம, காயத்ரீ ஜயம்தீ, நாரயலீ பூர்ணிமா, க்ருஷ்ண ஜந்மாஷ்டமீ வ்ரத, க்ரிஷ்ண ஜந்மாஷ்டமீ வ்ரத, ஆத்யாகாலீ ஜயம்தீ, காலாஷ்டமீ வ்ரத, ஜந்மாஷ்டமீ வ்ரத, கோகுலாஷ்டமீ, ஶ்ரீ க்ருஷ்ண ஜந்மோத்ஸவ,  జైన పర్యుషణ పర్వ, మహావీర స్వామీ జన్మ వాంచన, నవకార మంత్ర, నవకార మన్త్ర, నవకార మహామంత్ర, సనస్కార మహామంత్ర, చోబీస తీర్థంకర, జైన పర్యూషణ మహాపర్వ, ఘంటాకర్ణ మహావీర మహా యంత్ర, ఘంటాకర్ణ మహావీర మహా పతకా యంత్ర, స్నాన-దాన-వ్రత హేతు ఉత్తమ శ్రావణీ పూర్ణిమా, రక్షాబంధన, రక్షాబన్ధన, రాఖీ పూర్ణీమా, రాఖి పూనమ, రాఖీ పునమ, శ్రావణీ ఉపాకర్మ, గాయత్రీ జయంతీ, నారయలీ పూర్ణిమా, కృష్ణ జన్మాష్టమీ వ్రత, క్రిష్ణ జన్మాష్టమీ వ్రత, ఆద్యాకాలీ జయంతీ, కాలాష్టమీ వ్రత, జన్మాష్టమీ వ్రత, గోకులాష్టమీ, శ్రీ కృష్ణ జన్మోత్సవ, ജൈന പര്യുഷണ പര്വ, മഹാവീര സ്വാമീ ജന്മ വാംചന, നവകാര മംത്ര, നവകാര മന്ത്ര, നവകാര മഹാമംത്ര, സനസ്കാര മഹാമംത്ര, ചോബീസ തീര്ഥംകര, ജൈന പര്യൂഷണ മഹാപര്വ, ഘംടാകര്ണ മഹാവീര മഹാ യംത്ര, ഘംടാകര്ണ മഹാവീര മഹാ പതകാ യംത്ര, സ്നാന-ദാന-വ്രത ഹേതു ഉത്തമ ശ്രാവണീ പൂര്ണിമാ, രക്ഷാബംധന, രക്ഷാബന്ധന, രാഖീ പൂര്ണീമാ, രാഖി പൂനമ, രാഖീ പുനമ, ശ്രാവണീ ഉപാകര്മ, ഗായത്രീ ജയംതീ, നാരയലീ പൂര്ണിമാ, കൃഷ്ണ ജന്മാഷ്ടമീ വ്രത, ക്രിഷ്ണ ജന്മാഷ്ടമീ വ്രത, ആദ്യാകാലീ ജയംതീ, കാലാഷ്ടമീ വ്രത, ജന്മാഷ്ടമീ വ്രത, ഗോകുലാഷ്ടമീ, ശ്രീ കൃഷ്ണ ജന്മോത്സവ, ਜੈਨ ਪਰ੍ਯੁਸ਼ਣ ਪਰ੍ਵ, ਮਹਾਵੀਰ ਸ੍ਵਾਮੀ ਜਨ੍ਮ ਵਾਂਚਨ, ਨਵਕਾਰ ਮਂਤ੍ਰ, ਨਵਕਾਰ ਮਨ੍ਤ੍ਰ, ਨਵਕਾਰ ਮਹਾਮਂਤ੍ਰ, ਸਨਸ੍ਕਾਰ ਮਹਾਮਂਤ੍ਰ, ਚੋਬੀਸ ਤੀਰ੍ਥਂਕਰ, ਜੈਨ ਪਰ੍ਯੂਸ਼ਣ ਮਹਾਪਰ੍ਵ, ਘਂਟਾਕਰ੍ਣ ਮਹਾਵੀਰ ਮਹਾ ਯਂਤ੍ਰ, ਘਂਟਾਕਰ੍ਣ ਮਹਾਵੀਰ ਮਹਾ ਪਤਕਾ ਯਂਤ੍ਰ, ਸ੍ਨਾਨ-ਦਾਨ-ਵ੍ਰਤ ਹੇਤੁ ਉੱਤਮ ਸ਼੍ਰਾਵਣੀ ਪੂਰ੍ਣਿਮਾ, ਰਕ੍ਸ਼ਾਬਂਧਨ, ਰਕ੍ਸ਼ਾਬਨ੍ਧਨ, ਰਾਖੀ ਪੂਰ੍ਣੀਮਾ, ਰਾਖਿ ਪੂਨਮ, ਰਾਖੀ ਪੁਨਮ, ਸ਼੍ਰਾਵਣੀ ਉਪਾਕਰ੍ਮ, ਗਾਯਤ੍ਰੀ ਜਯਂਤੀ, ਨਾਰਯਲੀ ਪੂਰ੍ਣਿਮਾ, ਕ੍ਰੁਸ਼੍ਣ ਜਨ੍ਮਾਸ਼੍ਟਮੀ ਵ੍ਰਤ, ਕ੍ਰਿਸ਼੍ਣ ਜਨ੍ਮਾਸ਼੍ਟਮੀ ਵ੍ਰਤ, ਆਦ੍ਯਾਕਾਲੀ ਜਯਂਤੀ, ਕਾਲਾਸ਼੍ਟਮੀ ਵ੍ਰਤ, ਜਨ੍ਮਾਸ਼੍ਟਮੀ ਵ੍ਰਤ, ਗੋਕੁਲਾਸ਼੍ਟਮੀ, ਸ਼੍ਰੀ ਕ੍ਰੁਸ਼੍ਣ ਜਨ੍ਮੋਤ੍ਸਵ, জৈন পর্যুষণ পর্ৱ, মহাৱীর স্ৱামী জন্ম ৱাংচন, নৱকার মংত্র, নৱকার মন্ত্র, নৱকার মহামংত্র, সনস্কার মহামংত্র, চোবীস তীর্থংকর, জৈন পর্যূষণ মহাপর্ৱ, ঘংটাকর্ণ মহাৱীর মহা যংত্র, ঘংটাকর্ণ মহাৱীর মহা পতকা যংত্র, স্নান-দান-ৱ্রত হেতু উত্তম শ্রাৱণী পূর্ণিমা, রক্ষাবংধন, রক্ষাবন্ধন, রাখী পূর্ণীমা, রাখি পূনম, রাখী পুনম, শ্রাৱণী উপাকর্ম, গাযত্রী জযংতী, নারযলী পূর্ণিমা, কৃষ্ণ জন্মাষ্টমী ৱ্রত, ক্রিষ্ণ জন্মাষ্টমী ৱ্রত, আদ্যাকালী জযংতী, কালাষ্টমী ৱ্রত, জন্মাষ্টমী ৱ্রত, গোকুলাষ্টমী, শ্রী কৃষ্ণ জন্মোত্সৱ, ଜୈନ ପର୍ୟୁଷଣ ପର୍ବ, ମହାଵୀର ସ୍ବବାମୀ ଜନ୍ମ ବାଂଚନ, ନବକାର ମଂତ୍ର, ନବକାର ମନ୍ତ୍ର, ନଵକାର ମହାମଂତ୍ର, ସନସ୍କାର ମହାମଂତ୍ର, ଚୋବୀସ ତୀର୍ଥଂକର, ଜୈନ ପର୍ଯୂଷଣ ମହାପର୍ଵ, ଘଂଟାକର୍ଣ ମହାବୀର ମହା ଯଂତ୍ର, ଘଂଟାକର୍ଣ ମହାବୀର ମହା ପତକା ଯଂତ୍ର, ଯନ୍ତ୍ର, ସ୍ନାନ-ଦାନ-ବ୍ରତ ହେତୁ ଉତ୍ତମ ଶ୍ରାଵଣୀ ପୂର୍ଣିମା, ରକ୍ଷାବଂଧନ, ରକ୍ଷାବନ୍ଧନ, ରାଖୀ ପୂର୍ଣୀମା, ରାଖି ପୂନମ, ରାଖୀ ପୁନମ, ଶ୍ରାଵଣୀ ଉପାକର୍ମ, ଗାଯତ୍ରୀ ଜଯଂତୀ, ନାରଯଲୀ ପୂର୍ଣିମା, କୃଷ୍ଣ ଜନ୍ମାଷ୍ଟମୀ ବ୍ରତ, କ୍ରିଷ୍ଣ ଜନ୍ମାଷ୍ଟମୀ ବ୍ରତ, ଆଦ୍ଯାକାଲୀ ଜଯଂତୀ, କାଲାଷ୍ଟମୀ ବ୍ରତ, ଜନ୍ମାଷ୍ଟମୀ ବ୍ରତ, ଗୋକୁଲାଷ୍ଟମୀ, ଶ୍ରୀ କୃଷ୍ଣ ଜନ୍ମୋତ୍ସଵ, jain paryushan parva, mahavir swami janma vanchan, navakara mantra, navakara mantra, navakara mahamamtra, sanaskara mahamantra, chobisa tirthankar, jaina paryushana mahaparva, Ghantakarn Mahaveera,  Ghantakarn Mahaveera Maha pataka yantra, Ghantakarn Mahaveera pataka yantra, Snan dan vrat hetu uttama sravani purnima, poornima, rakhsha bandhan, rakhi, rakhhi punam, sravani upkarma, gayatri jayanti, nariyali purnima, nariyalee punam, krushna janmasthami, shree  krushna janmasthamee, shri krushna janmasthami, shree  krushna janmasthamee Vrat, gokulashtami, shri krushna Janmotshav,

अनुक्रम
राखी पूर्णिमा विशेष
राखी पूर्णिमा का महत्व
6
राखी पूर्णिमा से जुडि पौराणिक कथाएं
8
जन्माष्टमी विशेष
कृष्ण के मुख में ब्रह्मांड दर्शन
10
कृष्ण स्मरण का महत्व
11
श्री कृष्ण का नामकरण संस्कार
12
श्रीकृष्ण चालीसा
13
विप्रपत्नीकृत श्रीकृष्णस्तोत्र
14
प्राणेश्वर श्रीकृष्ण मंत्र
15
ब्रह्मा रचित कृष्णस्तोत्र
16
श्रीकृष्णाष्टकम्
17
कृष्ण के विभिन्न मंत्र
19
कृष्ण मंत्र
20
श्रीकृष्ण बीसा यंत्र
21
पर्युषण विशेष
श्री नवकार मंत्र (नमस्कार महामंत्र)
22
विभिन्न चमत्कारी जैन मंत्र
24
जैन धर्म के चौबीस तीर्थंकारों के जीवन का संक्षिप्त विवरण
28
देवदर्शन स्तोत्रम्
31
श्री मंगलाष्टक स्तोत्र (जैन)
32
अथ नवग्रह शांति स्तोत्र (जैन)
32
महावीराष्टक-स्तोत्रम्
33
महावीर चालीसा
34
पर्यूषण का महत्व
36
जब महावीर ने एक ज्योतिषी को कहां तुम्हारी विद्या सच्ची है?
38
घंटाकर्ण महावीर सर्व सिद्धि महायंत्र
41
गौतम केवली महाविद्या (प्रश्नावली)
45
स्थायी लेख
संपादकीय
4
जन्म वार से व्यक्तित्व
40
वास्तु सिद्धांत
42
हस्तरेखा ज्ञान
44
मासिक राशि फल
50
अगस्त 2011 मासिक पंचांग
55
अगस्त-2011 मासिक व्रत-पर्व-त्यौहार
57
अगस्त 2011 -विशेष योग
63
दिन के चौघडिये
64
दिन कि होरा - सूर्योदय से सूर्यास्त तक
65
ग्रह चलन अगस्त -2011
66
हमारे उत्पाद
जैन धर्मके विशिष्ट यंत्रो की सूची
29
सर्व कार्य सिद्धि कवच
30
राशि रत्न
54
सर्व रोगनाशक यंत्र/कवच
67
मंत्र सिद्ध कवच
69
YANTRA  LIST
70
GEM STONE
72
सूचना
74
हमारा उद्देश्य
76
मंत्र सिद्ध सामग्रीयां पुष्ठ संखया: 35,37,39.48.49,60,61


 (File Size : 2.30 MB)

ई मेल द्वारा हमारे नये लेख प्राप्त करने हेतु नीचे अपना ई-मेल प्रता भरें।
Receive an email notification our new post on Blog, Sumbit Your EmailID Below.


Enter your email address:
Delivered by FeedBurner
इससे जुडे अन्य लेख पढें (Read Related Article)


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें