Search

लोड हो रहा है. . .

रविवार, मई 09, 2010

गृह प्रवेश एवं वास्तु (भाग:२)

Gruha pravesha evm vastu bhag:2, gruh arambha evm vastu part:2

 
गृह प्रवेश एवं वास्तु (भाग:२)

शास्त्रोक्त मत से गृहारम्भ या गृहप्रवेश हेतु उत्तम समय तब होता हैं जब सूर्य मेष, वृष, कर्क, सिंह, तुला, वृश्चिक, मकर और कुम्भ इन राशियों में से किसी एक मे होता हैं। और गृहारम्भ या गृहप्रवेश अशुभ होता हैं जब सूर्य मिथुन, कन्या, धनु और मीन - इन राशि में होता हैं।

 
  • मेष राशि के सूर्यमें गृहारम्भ करने से शुभ फल प्राप्त होता हैं।
  • वृष राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से धन की वृद्धि होती हैं ।
  • मिथुन राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से परिवार में मृत्यु होती हैं।
  • कर्क राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से शुभ फल प्राप्त होता हैं।
  • सिंह राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से सेवक द्वारा लाभ प्राप्त होता हैं।
  • कन्या राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से परिवार में रोग होता है।
  • तुला राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से सभी सुख प्राप्त होता हैं।
  • वृश्चिक राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से धनकी वृद्धि होती हैं।
  • धनु राशिके सूर्य में गृहारम्भ सम्मान की हानि होती हैं।
  • मकर राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से धन की प्राप्ति होती हैं।
  • कुम्भ राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से रत्न एवं द्रव्य लाभ प्राप्त होता हैं।
  • मीन राशि के सूर्य में गृहारम्भ करने से रोग तथा भय की प्राप्ति होती हैं।
इससे जुडे अन्य लेख पढें (Read Related Article)


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें