Search

लोड हो रहा है. . .

बुधवार, जनवरी 20, 2010

विद्या प्राप्ति के विलक्षण उपाय(टोटके) (भाग-१)

vidyaa Prapti Ke Vilakshan Upay(Totake, Totke) ( Bhag -1/ Part -1)


विद्या प्राप्ति के विलक्षण उपाय(टोटके) (भाग-१)


पूर्व की तरफ सिर करके सोने से विद्या की प्राप्ति होती है।

विद्वानो के मत से विद्या प्राप्ति हेतु ४ मुखी एवं ६ मुखी रूद्राक्ष लाल धागे मे धारण करने से व्यक्ति की बुद्धि तीव्र ओर कुशाग्र एवं विद्या, ज्ञान, उत्तम वाणी की प्राप्त होकर जीवन मे रचनात्मकता आति है

पढाई मेज पर स्फटिक का श्री यंत्र स्थापीत करने से स्मरण शक्ति तीव्रे होती हैं एवं खराब विचार दूर होकर उत्तम प्रकार की चिंताधारा उत्पन्न होती हैं, एवं मां सरस्वती और लक्ष्मी का आशिर्वाद सदैव बना रेहता हैं।

 अपने पूजा स्थान पर सरस्वती यंत्र स्थापीत कर प्रति दिन धूप- दीप करने से मां सरस्वती का आशिर्वाद एवं कृपा सदैव बनी रेहती हैं।

पढाई करते समय पूर्व या उत्तर दिशा की तरफ मुख कर कर पढाई करें।

पढाई करते समय स्फेद या हलके रंग के कपडो का चुनाव करे ताकी एकग्रता बनी रहें, गहरे रंग या भडकीले रंगो वाले कपडे पहनने से मानसिक अशांति उतपन्न होती हैं, जिस्से एकग्रता भंग होती हैं एवं पढाई मे मन नही लगता।

पढाई की किताब में मौली का टुकडा रखने से ज्ञान एवं विद्या में लाभ प्राप्त होता हैं।

किताब में मोर के पंख रखने से लाभ होता हैं।

ज्ञान मुद्रा का प्रति-दिन मात्र ५ मिनिट प्रयोग करने से स्मरण शक्ति की वृद्धि होती हैं। (मुद्रा के अन्य लाभ शीध्र उपलब्ध कराने हेतु हम प्रयास रत हैं।)
इससे जुडे अन्य लेख पढें (Read Related Article)


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें