Search

लोड हो रहा है. . .

शुक्रवार, फ़रवरी 12, 2010

बोलते हैं हस्ताक्षर। भाग-1

Bolate Hain Hastakshar - Bhaag-1 (Part-1), signature analysis, Numerology, Astrology, handwriting analysis, Jyotish, Ank jyotish, 

बोलते हैं हस्ताक्षर। भाग -१
हस्ताक्षर साक्षार(शिक्षित) व्यक्ति के जीवन मे अहम हिस्सा है जो उस्के जीवन की सफ़लता एवं असफ़लता निश्चित करती है।


किसी व्यक्ति के हस्ताक्षर को देखकर जीवन के प्रति उसकी मानसिकता, सफ़लता, कार्य करने के शैलि, लोगो से उस्क संबंध, पूर्ण विश्वास और चरित्र आदि का अनुमान सरलता से लगाया जा सकता है।

 हस्ताक्षर व्यक्ति की संपुर्ण मानसिक स्थिति को प्रकट करता है। हस्ताक्षर की जाच करते (नमूना लेते वक्त)या करवाते वक्त (नमूना देते वक्त) अपनी सोच को स्वतन्त्र रखे बिना हिचकिचाए और बिना कुछ सोचे एवं पूरी दृढ़ता से हस्ताक्षर करे, तो वह हस्ताक्षर नमूना अध्ययन की दृष्टि से उचित होता है।
  • हम ने कुछ एसे लोग को देखा है जो वास्तविक जीवन मे अलग तरह के हस्ताक्षर करते है, परंतु जाच के समय या उस्का विश्लेशण करते समय अलग तरह का हस्ताक्षर करते है ! यह अनुचित है।
  • वही हस्ताक्षर करे जो आप अपने वास्तविक जीवन मे करते है।
  • बिना रुके होना चाहिए अर्थात हस्ताक्षर पूर्ण गति में बिना ज्यादा समय कलम रोके करे।



जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर मे सभी अक्षर एक ही आकार (संतुलित हस्ताक्षर) के हो ।

  • व्यक्ति अत्यंत व्यवहारकुशल होते हैं।
  • व्यक्ति अपने कार्यों एवं इरदो पर दृढ़ रहते हैं।
  • ऐसे व्यक्ति जो भी निर्णय लेते हैं, वह स्वतंत्र होता है।
  • एसे व्यक्ति व्यवसाय से ज्यादा नौकरी मे सफ़ल हो एसा संभव है।
  • जल्द कामयाबी हासल करने की तीव्र इच्छा इनमें रहती है।
  • इनका व्यक्तित्व दूसरो आकर्षित करने मे प्रबल होता है।
  • इनके विचारों से प्रभावित होने वालो की संख्या ज्यादा होती हैं।



जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर का प्रथाम अक्षर काफी बडा रखता हो।

  • वह व्यक्ति उतना ही विलक्षण प्रतिभा का घनी, समाज में काफी लोकप्रिय होता है।
  • व्यक्ति समाज मे उच्चा पद प्राप्त करने वाला होता है।
  • दिखावा करने मे माहीर होता है।

जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर में पहला शब्द बडा व बाकी के शब्द सुन्दर व छोटे आकार में होते हैं,

  • ऎसा व्यक्ति घीरे-घीरे उच्चा पद प्राप्त करते हुए सर्वोच्चा स्थान प्राप्त करते है।
  • ऎसा व्यक्ति जीवन में पैसा बहुत कमाता है।
  • कई भूमि-भवनो का मालिक बनता है व समाज में काफी लोकप्रिय होता है,
  • कला प्रेमि व संकोची स्वभाव का उत्तम श्रेणी का विद्वान होता है।
  • वह अपने परिवार का काफी नाम रोशन करता है।


जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर में पहला शब्द बडा व बाकी के शब्द अस्पष्ट व छोटे आकार में होते हैं,

  • ऎसा व्यक्ति जीवन को असामान्य रूप से व्यतीत करता है।
  • हर समय ऊँचाई पर पहुँचने की ललक होती है, लेकिन शत्रु कि वजह से पहोच नही पाता।
  • व्यक्ति राजनीति, अपराघी, कूटनीतिज्ञ या बहुत बडा व्यापारी बनता है।  
  • जीवन असामान्य रूप में व्यतीत करने के कारण परिवार के लोगों की अपेक्षा का शिकार होते है।
  • कोइ व्यक्ति इनहे घोखा खा नहीं दे सकता है। यह इनकी विशेष सोच होती है।
  • लेकिन यह लोग दूसरोको आसनी से अपनी बातो मे उलझाना बखुबी जानते है।


जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर अस्पष्ट तथा जल्दी-जल्दी मे लिखते हो।
  • अपने मन कि बात किसी को नही बताने वाले।
  • अपनी मन की करने वाले लापरवाह होते है।
  • हर समय दूसरो के लिये नारजगी बनी रहती है।
  • दिमाग मे हर समय कुछ एसा सोचते रहते है जो जल्द से जल्द कामयाबी के शिखर पर पहोचा दे।
  • लेकिन ज्यादा तर इनकी सोच असफ़ल ही रहती है।
भाग -२ (हम जल्द ही उपलब्ध कराने के प्रयास मे है, और आप के सहयोग कि आशा करते है।)
इससे जुडे अन्य लेख पढें (Read Related Article)


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें